यूनिवर्सल बेसिक इनकम (आमदनी) योजना क्या है? इसका लाभ कैसे और किसे मिलेगा!

UBI -Universal Basic Income Yojana | ये क्या है? इसके फायदें और जरूरी जानकारी


हाल में हुए विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी का नुकसान मध्यम वर्गीय जनता और किसानों के बीच असंतोष के रूप में देखा जा रहा है, जिन्हें लगता है कि सरकार ने उनके लिए पर्याप्त काम नहीं किया है। इसीलिए केंद्र सरकार किसानों की आय को दोगुना करने और बेरोजगारी समाप्त करने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के वादे को लागू करने के लिए नई उपायों पर चर्चा हो रही है। 

UBI-Universal Basic Income Yojana





यूनिवर्सल बेसिक इनकम क्या है?

यूनिवर्सल बेसिक इनकम (UBI) देश के सभी नागरिकों को उनकी आय, संसाधनों या रोजगार की स्थिति की परवाह किए बिना एक निश्चित राशी प्रदान करने के लिए एक मॉडल है। UBI योजना का उद्देश्य गरीबी को रोकना या कम करना और नागरिकों के बीच समानता को बढ़ाना है। UBI को 'आमदनी योजना' के नाम से भी जाना जाता है। 

वकालत समूह बेसिक इनकम अर्थ नेटवर्क (BIEN) के अनुसार, बेसिक इनकम के पीछे आवश्यक सिद्धांत यह विचार है कि सभी नागरिक एक देय आय के हकदार हैं। प्रणब बर्धन सहित दुनिया भर के कई विद्वानों ने भारत में भ्रष्ट और अप्रभावी मौजूदा सामाजिक कार्यक्रमों के विकल्प के रूप में यूनिवर्सल बेसिक इनकम के लागू करने का मजबूत समर्थन किया है।

यूनिवर्सल बेसिक इनकम या आमदनी योजना का लाभ कैसे और किसे मिलेगा?





सरकार उन नागरिकों के बैंक खातों में एक निश्चित राशि ट्रान्सफर करेगी जो आय अर्जित करने में असमर्थ हैं। अगर यह योजना लागू हो जाती है तो जल्द ही केंद्र सरकार किसानों, बेरोजगार युवक-युवतियों को हर महीने एक फिक्स सैलरी देने लगेगी। इसके अंतर्गत 10 करोड़ परिवारों को 3000 रूपये प्रदान किया जा सकता है।

universal basic income kya hai

Universal Basic Income (UBI) - आमदनी योजना के फायदें

- आमदनी योजना लागू हो जाने के बाद देश के हर नागरिक के बैंक खाते में सीधे एक निश्चित राशी ट्रांसफर किया जाएगा.

- मॉडल यूबीआई की सबसे खास बात है कि यह सबके लिए होगा. यह किसी खास वर्ग के लिए नहीं होना चाहिए.

- इसके लिए किसी व्यक्ति को अपनी रोजगार की स्थिति या सामाजिक-आर्थिक स्थिति को साबित करने की जरूरत नहीं होगी.

- UBI के तहत जीरो इनकम वाले लोगों को इस सुविधा का पूरा लाभ मिल सकता है.

- ऐसे लोग जिनकी मूल आय के अलावा भी आमदनी का जरिया होगी, उनके इनकम पर टैक्स लगाकर सरकार फायदे को कंट्रोल करेगी.



भारत में आमदनी योजना असंगठित क्षेत्र को विशिष्ट रूप से लाभान्वित करेगा। 90% से अधिक भारतीय आबादी असंगठित क्षेत्र में काम करती है जिसमें 10 से कम श्रमिकों के सभी व्यवसाय शामिल हैं जिन पर सरकारी अधिकारियों द्वारा कर या निगरानी नहीं की जाती है। इस क्षेत्र के कामगारों को कोई लाभ या पेंशन नहीं मिलती है, और इसलिए अनौपचारिक क्षेत्र के श्रमिकों को सेवानिवृत्ति बचत, स्वास्थ्य लाभ या वित्तीय सुरक्षा तक पहुंच नहीं है। यह नोट करना महत्वपूर्ण है कि हालांकि यह ग्रामीण भारत में विशेष रूप से प्रमुख है, यहां तक कि अर्थव्यवस्था के कृषि क्षेत्रों के लिए लेखांकन के बिना, 80% से अधिक भारतीय आबादी अभी भी अनौपचारिक क्षेत्र की नौकरियों में कार्यरत है। यह यूबीआई योजना आबादी के इस बड़े हिस्से को बेरोजगारी, स्वास्थ्य मुद्दों या किसी अन्य स्थिति में कुछ वित्तीय सुरक्षा प्रदान करने में सक्षम करेगा।

संबंधित जानकारियाँ-






अगर आपके पास कोई प्रश्न है, तो निचे Comment करें। यदि आप इस Article को उपयोगी पाते हैं, तो इसे अपने दोस्तों के साथ Share करें।


यूनिवर्सल बेसिक इनकम (आमदनी) योजना क्या है? इसका लाभ कैसे और किसे मिलेगा! यूनिवर्सल बेसिक इनकम (आमदनी) योजना क्या है? इसका लाभ कैसे और किसे मिलेगा! Reviewed by AwarenessBOX on 12:25 Rating: 5

2 comments

  1. Ye scheme Kab start hoga

    ReplyDelete
    Replies
    1. सम्भवत: मार्च अप्रैल में.

      Delete

Share