जमीन का खतियान, भूलेख, लैंड रिकार्ड्स ऑनलाइन चेक करें ऐसे

जमीन या प्लाट लेने से पहले उसका खतियान जांच कैसे करें | जमीन खरीदने का नियम



खतियान क्या है?


खतियान भूमि से संबंधित सरकारी रिकॉर्ड होता है जिसमें जमीन के मालिक का नाम, खाता-खेसरा, जमाबंदी नंबर आदि दर्ज रहता है। यह बिहार सरकार के राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के पास सुरक्षित रहते हैं। इसको और दुसरे नाम से भी जाना जाता है जैसे - भूलेख, अधिकार अभिलेख.

अगर आप जमीन या प्लाट लेने जा रहें है और उस जमीन का डिटेल्स आपको जानना है तो आप घर बैठे ही संबंधित जमीन का 'अधिकार अभिलेख' ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त कर सकतें हैं। इसमें जमीन के मालिक का नाम, क्षेत्रफल, खाता संख्या, चौहदी, मौजा, जमाबंदी न. सहित अन्य जानकारी अंकित होती है।

भूलेख (खतियान) नकल ऑनलाइन देखने और डाउनलोड करने की प्रक्रिया इस प्रकार है :



Step 1. 

इसके लिए http://lrc.bih.nic.in/ - जो की राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग की वेबसाइट है, खोलकर 'Search Your Land' लिंक पर क्लिक करें।

Bihar-jamin-bhulekh-khatiyan-online

Step 2. 

ऐसा करने के बाद आप बिहार का नक्शा देख सकेंगे जिसमे आपको संबंधित जिला, अंचल को चुनना होगा जैसा की निचे दिए गए फोटो मे दिखाया गया है।





jamin-khatiyan-bihar-bhulekh-jankari

Step 3. 

अब यहाँ संबंधित मौजा का नाम सेलेक्ट करें खाता देखने के लिए. इसके बाद निचे आपको कुछ विकल्प मिलेंगे, जैसे- मौजा के समस्त खातों को नामानुसार देखें, खेसरा संख्या के अनुसार देखें, खाता संख्या से देखें, खाताधारी के नाम से देखें आदि. अपने सुविधानुसार विकल्प चुने और निचे 'खाता खोजें' पर क्लिक करें.

jamin-khatiyan-bihar-bhulekh

Step 4. 

खुलने वाले पेज में रैयतधारी का नाम, पिता/पति का नाम, खाता संख्या, खेसरा संख्या, अधिकार अभिलेख लिस्टेड होता है. इसमें आप 'अधिकार अभिलेख' के कॉलम में 'देखें' पे क्लिक करके 'भूलेख' देख सकते है और डाउनलोड कर लें. इस अभिलेख में जमीन के मालिक, एरिया आदि डिटेल्स रहता है.




bihar-bhulekh-jankari


अगर आपके पास कोई प्रश्न है, तो निचे Comment करें। यदि आप इस Article को उपयोगी पाते हैं, तो इसे अपने दोस्तों के साथ Share करें।

संबंधित जानकारियाँ-









जमीन का खतियान, भूलेख, लैंड रिकार्ड्स ऑनलाइन चेक करें ऐसे जमीन का खतियान, भूलेख, लैंड रिकार्ड्स ऑनलाइन चेक करें ऐसे Reviewed by AwarenessBOX on 16:25 Rating: 5

2 comments

  1. Purana khatiyan aur purana naksha kaise milega sir?

    ReplyDelete
    Replies
    1. Ye link purana khatiyan ka hi hai, naya ke liye 'Search Your Land New Survey' hai jo ki abhi completed nhi hai.
      Naksha ke liye Govt. Press, Gulzarbagh, Patna. se form me old map ke liye apply kare.

      Delete

Share