प्रॉपर्टी या जमीन पर लोन है या नहीं कैसे चेक करे -How to check loan status on any property

कैसे पता करें कि किसी प्रॉपर्टी पर लोन है या नहीं?

check-loan-on-property-in-hindi
किसी प्रॉपर्टी, जमीन (Plot), फ्लैट आदि पे लोन लिया गया है या नहीं, ये कैसे पता करतें है ऑनलाइन या और दुसरे उपलब्ध साधनों से - यहाँ बताया गया है! अगर आप प्रॉपर्टी खरीदना चाह रहे हैं तो आपको यह पता होना चाहिये कि वह प्रॉपर्टी किसी बैंक या फाइनेंस कंपनी के पास गिरवी है या नहीं। फर्जी अचल प्रॉपर्टी के मामले बढ़ रहे हैं। कई ऐसे मामले हैं जहां एक ही प्रॉपर्टी पे कई बार ऋण लिये गए और उसे बेचा भी गया हैं।

लोन/मॉर्गेज चेक करने के लिए विभिन्न उपलब्ध साधन:

प्रॉपर्टी खरीदने से पहले लोग उसे वेरीफाई करवाते है जो की वकीलों के द्वारा किया जा सकता है, खुद से उस प्रॉपर्टी का डिटेल्स रजिस्ट्री ऑफिस से प्राप्त कर या ऑनलाइन (किसी प्रॉपर्टी पर लोन है या नहीं) पता किया जा सकता है:
  • वकीलों के मदद से 'legal Opinion' जिसमे सम्बंधित प्रॉपर्टी की सभी डिटेल्स होती है।
  • प्रॉपर्टी/जमीन का 'Sale Deed', 7/12 रिकॉर्ड, पंजीकरण प्रमाण पत्र से पता कर सकते है।
  • ऑनलाइन CERSAI और mortgage-check के वेबसाइटों के माध्यम से।





प्रॉपर्टी का कानूनी सत्यापन (Legal Verification of Property)

वकील द्वारा तैयार 'लीगल ओपिनियन' पारंपरिक सत्यापन का तरीका है। इसमें प्रॉपर्टी से सम्बंधित दस्तावेज, जैसे- एन्कोम्ब्रेंस प्रमाण पत्र (Encumbrance certificate), सेल डीड, टाइटल और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, L.P.C आदि प्राप्त हो जाते है जिससे की प्रॉपर्टी से सम्बंधित सभी जानकारियां मिल जाती है। अक्सर बैंक लोन देने से पहले वकील द्वारा तैयार 'legal Opinion' की मांग करता है और रिपोर्ट पॉजिटिव रहने पे ही लोन देता है।

यदि लोन लिया जाता है तो रजिस्ट्री पेपर में लोन रिफ्लेक्ट होता है। आप खुद से भी प्रॉपर्टी का डिटेल्स (7/12 रिकॉर्ड, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट) सम्बंधित रजिस्ट्री ऑफिस से प्राप्त कर प्रॉपर्टी का वेरिफिकेशन कर सकते है, अगर आपके पास पर्याप्त समय है तो।

प्रॉपर्टी का ऑनलाइन सत्यापन (Online Verification of Property)

1. केंद्रीय रजिस्ट्री ऑफ सिक्यूरिटीज एसेट रिकंस्ट्रक्शन एंड सिक्योरिटी इंटरेस्ट (CERSAI) वेबसाइट - यह भारत की एक केंद्रीय ऑनलाइन सुरक्षा-हित रजिस्ट्री है। यह मुख्य रूप से ऋण देने में धोखाधड़ी की जांच करने के लिए बनाया गया था, जिसमें लोग विभिन्न बैंकों से एक ही संपत्ति पर कई बार लोन ले लेते थे।

कोई भी व्यक्ति या आम जनता निर्धारित शुल्क के भुगतान पर केंद्रीय रजिस्टर में ऑनलाइन खोज कर सकतें है। 

cersai-Property-check-verify

इसके लिये प्रॉपर्टी का विवरण जैसे- पंजीकरण संख्या या संपत्ति का पता आपको इसकी लोन की स्थिति पर जानकारी तक पहुंचने में मदद करेगा। आपको Rs. 50 का शुल्क भुगतान अपने क्रेडिट या डेबिट कार्ड का उपयोग करके देना होगा।




2. transunioncibil.com मॉर्गेज जानकारी का पहला केंद्रीकृत इलेक्ट्रॉनिक डेटाबेस है जो की राष्ट्रीय आवास बैंक (NHB) और अन्य उद्योग संस्थानों के परामर्श से विकसित हुआ है जिसका उपयोग फाइनेंस कंपनियों द्वारा लोन देने के क्रम में किया जाता है।

transunioncibil-mortgage-loan-check

निम्नलिखित बुनियादी दस्तावेज आपकी जमीन (संपत्ति) के बारे में बुनियादी सच्चाई दर्शाते हैं-

  1. बिक्री विलेख (Sale Deed): यह मूल कानूनी दस्तावेज है जो की संपत्ति की बिक्री का प्रमाण होता है। यह स्पष्ट रूप से उन सभी नियमों और शर्तों को बताता है जिनके उपयोग के लिए भूमि बेंची गई है।
  2. L.P.C (भूमि स्वामित्व सर्टिफिकेट): यह राज्य सरकार द्वारा जमीन के मालिक को जारी किया गया एक दस्तावेज होता है। असल में यह भूमि के स्वामित्व का सबूत है। इसकी आवश्यकता अनेक मामलों जैसे बैंक से ऋण प्राप्त करने में, भू-अर्जन के मामलों में भूमि पर अपना दावा प्रस्तुत करने आदि में होता है।
  3. भवन की स्वीकृति योजना (Building Approval Plan): मूल योजना जिसे नगर निगम द्वारा अधिसूचित किया जाता है, जो बताती है कि आपकी जमीन का स्वामित्व किस तरह से है, ऋण पर या सीधे किसी व्यक्ति या संयुक्त संपत्ति द्वारा खरीदा गया है।
  4. टाइटल डीड: इसमें संपत्ति का शीर्षक की जानकारी होती है, मतलब की प्रॉपर्टी के कौन कौन मालिक रहें है।
  5. अपडेटेड टैक्स रिसीप्ट: नवीनतम कर भुगतान रसीद में प्रॉपर्टी टैक्स का विवरण होता हैं।




संबंधित जानकारियाँ-




अगर आपके पास कोई प्रश्न है, तो निचे Comment करें। यदि आप इस आवेदन को उपयोगी पाते हैं, तो इसे अपने दोस्तों के साथ Share करें।


प्रॉपर्टी या जमीन पर लोन है या नहीं कैसे चेक करे -How to check loan status on any property प्रॉपर्टी या जमीन पर लोन है या नहीं कैसे चेक करे -How to check loan status on any property Reviewed by AwarenessBOX on 14:51 Rating: 5

No comments

Share